--%> नितीश की अवसरवादी राजनीति और धोखा देने की आदत पुरानी है।- अम्बावता

नितीश की अवसरवादी राजनीति और धोखा देने की आदत पुरानी है।- अम्बावता

Social Media

टीम : Noida

Date : Thursday, 27 July, 2017


न्यू खबर, noida

Updated @:

बिहार में नीतीश कुमार ने सीएम और सुशील मोदी ने डिप्टी सीएम पद की
शपथ ले ली है।  लेकिन बिहार राजनीतिक रूप से बहुत
जागरूक स्टेट है। मोतीहारी से महात्मा गांधी ने सारे देश को संदेश दिया था। आज
अफसोस है कि हमारे बीच कोई महात्मा गांधी नहीं हैं। आरएसएस से संबंध रखने वाले
नाथूराम गोडसे ने महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या कर दी थी।
 
नीतीश कुमार के बीजेपी के साथ जाने के फैसले से बिहार की जनता नाराज है। बिहार की जनता ने तो
बीजेपी को खाली हाथ भेजा था। पिछड़ों, मुसलमानों और गरीबों ने हमारा साथ दिया
था। जिधर सत्ता दिखती है नीतीश वहीं चले जाते हैं। वह बड़े अवसरवादी नेता हैं। 
 इस बात का इतिहास गवाह की जब जब जिसने भी इनको आगे बढ़ाया है उसी को इन्होने धोका दिया है चाहे 
बंदा मोहरा हैं अगर ईमानदार हैं तो अकेले चुनाव लडे और अकेले सरकार बनाऐं , 
यहां कौन ईमानदार हैं , 
2002 में भाजपा के अध्यक्ष से नाराज़ होकर रेलवे मंत्री के तौर पर इस्तीफ़ा 
फिर 2013 में मोदी की वजह से भाजपा से गठबंधन तोड़ा 
 फिर 2014 में आम चुनावों में करारी हार होने पर इस्तीफ़ा और मांझी को मुख्यमंत्री बनाना 
फिर मांझी से भी दिक्कत हो गयी और खुद मुख्यमंत्री बनना। 
 फिर 2015 में राजद के साथ गठबंधन करना 2017 में फिर से इस्तीफ़ा और गठबंधन तोड़ना
- फिर से भाजपा के साथ जाएंगे तो कौन सा महान काम करेगें ।
 महा गठबंधन को बीजेपी और आरएसएस के खिलाफ बड़ा जनादेश मिला था। विधानसभा में नीतीश ने
भी कहा था कि मिट्टी में मिल जाएंगे, लेकिन बीजेपी से हाथ नहीं मिलाएंगे। और इसी पर लालू जी ने बोला था कि अगर मेरे
मन में खोट या लालच होता तो मैं नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री नहीं बनाता।
अगर देखा जाये तो नीतीश कुमार ने राज्य में शराबबंदी का
ढोंग किया और बिहार में शराब की होम डिलीवरी करवाई । 
अगर देखा जाये तो आज भी 70 प्रतिशत बिहार की जनसंख्या लालू यादव जी के साथ है।
अंबावता जी ने सच ही कहा  है कि कुछ नेता ऐसे ही होते है कि जिधर सत्ता दिखती है उधर ही चले जाते है 
जैसे कि अजीत सिंह, रामविलास पासवान आदि....

बॉलीवुड

लाइफस्टाइल

New khabar © All rights Reseverd | Design by Dssgroups